कोर्ट में पेशी पर जा रहे पिता-पुत्र पर फायरिंग

0
84

मारपीट के मामले में कोर्ट में पेशी पर पिता-पुत्र व उनके साथियों की गाड़ी पर हंतरा पुल के पास बदमाशों ने फायरिंग कर दी। इससे गाड़ी में सवार हंतरा निवासी बिरजू, कौशलेंद्र व हरेंद्र घायल हो गए। तीनों निहत्थे घायलों ने गाड़ी में से उतर कर बदमाशों के साथ मारपीट की। इससे बदमाश वरुण व राघवेंद्र भी घायल कर दिया। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची तब तक अन्य बदमाश मौके से भाग गए थे।


पुलिस ने पांचों घायलों को उपचार के लिए आरबीएम अस्पताल में भर्ती कराया। पीड़ित अनूप सिंह के अनुसार दूसरे पक्ष की ओर से बदमाशों को बुला कर हमला कराने का मामला बताया गया है। थाना प्रभारी अरुण चौधरी ने बताया कि हंतरा निवासी अनूप सिंह पुत्र शंकरसिंह जाट अपने पुत्र कौशल उर्फ कौशलेन्द्र, बिरजू और अपने साथी हरेन्द्र पुत्र मोहनलाल के साथ महिन्द्रा गाड़ी में तारीख पेशी के लिए भरतपुर कोर्ट में जा रहे थे। हंतरा पुल के पास शिव मन्दिर के सामने से एक कार आई तथा उनकी गाड़ी के सामने खड़ी हो गई। कार में चार बदमाश पैंगौर निवासी वरुण पुत्र जदवीर, राघवेंद्र पुत्र रामवीर जाट, अलीगढ निवासी मुकेश पुत्र दर्याव कोली एवं हंतरा निवासी पुष्पेंद्र पुत्र श्यामलाल बैठे हुए थे। एक अन्य बदमाश गौंडा नयावास अलीगढ निवासी सतीश पुत्र कमल सिंह बाइक पर खड़ा था। पांच बदमाशों ने सामने से आ रही अनूप सिंह की गाड़ी पर फायर करना शुरू कर दिया। जिससे बिरजू की पीठ में गोली लग गई और कौशलेन्द्र व हरेन्द्र भी चोटिल हो गए।
घायल हुए बिरजू, कौशलेन्द्र व हरेन्द्र तीनों गाड़ी से नीचे उतर आए ओर बदमाश वरुण एवं राघवेंद्र से उनके हथियार छीन लिए तथा उन्हीं के हथियारों व लात घुसों से बदमाश वरूण व राघवेंद्र को पीटना शुरू कर दिया। जिससे बदमाश वरुण एवं राघवेन्द्र भी घायल हो गए। बाकी तीन बदमाश मुकेश, सतीश, पुष्पेंद्र तीनों वहां से कार को वही छोड़ भाग छूटे। पुलिस ने पीछा कर मुकेश पुत्र दर्याव को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने घायल हुए कौशलेन्द्र, बिरजू, हरेन्द्र एवं बदमाश वरुण व राघवेन्द्र को भरतपुर आरबीएम उपचार के लिए भर्ती कराया गया। बिरजू की हालत गम्भीर होने पर उपचार के लिए जयपुर रैफर कर दिया है। इधर बदमाश वरुण की हालत गंभीर होने पर भरतपुर निजी अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया है।
10 हजार का इनामी शार्प शूटर है वरुण, मौके पर घायलों ने पकड़ा, अब भरतपुर के अस्पताल में भर्ती
गांव और अस्पताल में पुलिस तैनात
अचानक हुए हादसे को देखते हुए पुलिस ने गांव हंतरा में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस जाब्ता तैनात कर दिया है। घायल हुए बदमाशों की निगरानी रखने के लिए अस्पताल में पुलिस बल तैनात किया गया है। बाकी फरार हुए बदमाशों को पकडऩे के लिए क्षेत्र में नाकाबंदी की जा रही है। अचानक हुई घटना से हाईवे पर यातायात कुछ देर के लिए अवरुद्ध हो गया। सूचना मिलने पर पुलिस पहुंच गई।
भास्कर संवाददाता| नदबई
मारपीट के मामले में कोर्ट में पेशी पर पिता-पुत्र व उनके साथियों की गाड़ी पर हंतरा पुल के पास बदमाशों ने फायरिंग कर दी। इससे गाड़ी में सवार हंतरा निवासी बिरजू, कौशलेंद्र व हरेंद्र घायल हो गए। तीनों निहत्थे घायलों ने गाड़ी में से उतर कर बदमाशों के साथ मारपीट की। इससे बदमाश वरुण व राघवेंद्र भी घायल कर दिया। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची तब तक अन्य बदमाश मौके से भाग गए थे।
पुलिस ने पांचों घायलों को उपचार के लिए आरबीएम अस्पताल में भर्ती कराया। पीड़ित अनूप सिंह के अनुसार दूसरे पक्ष की ओर से बदमाशों को बुला कर हमला कराने का मामला बताया गया है। थाना प्रभारी अरुण चौधरी ने बताया कि हंतरा निवासी अनूप सिंह पुत्र शंकरसिंह जाट अपने पुत्र कौशल उर्फ कौशलेन्द्र, बिरजू और अपने साथी हरेन्द्र पुत्र मोहनलाल के साथ महिन्द्रा गाड़ी में तारीख पेशी के लिए भरतपुर कोर्ट में जा रहे थे। हंतरा पुल के पास शिव मन्दिर के सामने से एक कार आई तथा उनकी गाड़ी के सामने खड़ी हो गई। कार में चार बदमाश पैंगौर निवासी वरुण पुत्र जदवीर, राघवेंद्र पुत्र रामवीर जाट, अलीगढ निवासी मुकेश पुत्र दर्याव कोली एवं हंतरा निवासी पुष्पेंद्र पुत्र श्यामलाल बैठे हुए थे। एक अन्य बदमाश गौंडा नयावास अलीगढ निवासी सतीश पुत्र कमल सिंह बाइक पर खड़ा था। पांच बदमाशों ने सामने से आ रही अनूप सिंह की गाड़ी पर फायर करना शुरू कर दिया। जिससे बिरजू की पीठ में गोली लग गई और कौशलेन्द्र व हरेन्द्र भी चोटिल हो गए।
घायल हुए बिरजू, कौशलेन्द्र व हरेन्द्र तीनों गाड़ी से नीचे उतर आए ओर बदमाश वरुण एवं राघवेंद्र से उनके हथियार छीन लिए तथा उन्हीं के हथियारों व लात घुसों से बदमाश वरूण व राघवेंद्र को पीटना शुरू कर दिया। जिससे बदमाश वरुण एवं राघवेन्द्र भी घायल हो गए। बाकी तीन बदमाश मुकेश, सतीश, पुष्पेंद्र तीनों वहां से कार को वही छोड़ भाग छूटे। पुलिस ने पीछा कर मुकेश पुत्र दर्याव को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने घायल हुए कौशलेन्द्र, बिरजू, हरेन्द्र एवं बदमाश वरुण व राघवेन्द्र को भरतपुर आरबीएम उपचार के लिए भर्ती कराया गया। बिरजू की हालत गम्भीर होने पर उपचार के लिए जयपुर रैफर कर दिया है। इधर बदमाश वरुण की हालत गंभीर होने पर भरतपुर निजी अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया है।
घायलों का उपचार करते चिकित्सक।
हत्या और लूट के मामलों में वरुण चल रहा है फरार
थाना प्रभारी अरुण चौधरी ने बताया कि वरुण शार्प शूटर बदमाश है। वरुण अजमेर व नागौर के थानों में हत्या एवं लूट के मामलों में फरार चल रहा है। अजमेर पुलिस ने वरुण पर 10 हजार का इनाम भी रखा हुआ है। वरुण की दहशत अजमेर व नागौर क्षेत्र में फैली हुई है।
लोग दहशत में
बदमाशों द्वारा की गई वारदात हाइवे पर बनी डहरा मोड पुलिस चौकी से करीब चार किलोमीटर की दूरी पर की है। अचानक हुई फायरिंग से क्षेत्र के लोग दहशत में है। लोग जगह जगह वारदात की चर्चा करते हुए नजर आ रहे थे। इस वारदात से क्षेत्र के लोगों में काफी भय व्याप्त है।
घायल युवकों ने हथियार छीनकर बदमाशों को पीटा
दो पकड़े, तीन फरार
दो पिस्टल एवं चार कारतूस हुए बरामद
थाना प्रभारी ने बताया कि पुलिस एवं लोगों की भीड़ को देखकर बदमाश वहां से भाग छूटे। घटना स्थल पर 315 बोर के दाे कारतूस के खाली खोखे एवं चार जिंदा कारतूस तथा पिस्टल दो जिंदा कारतूस व खाली खोखे पुलिस ने जब्त किए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here